टिकटॉक पर उठाया भारत जैसा कदम, तो चीन से छिन जाएगा जासूसी का टूल: अमेरिकी NSA

0
42

भारत सरकार ने बीते दिनों टिकटॉक समेत चीन की 59 मोबाइल ऐप्स पर बैन लगा दिया था. अब अमेरिका भी ऐसा ही कदम उठाने की सोच रहा है.

भारत सरकार ने जब चीनी मोबाइल ऐप टिकटॉक पर बैन लगाया तो दुनिया को एक बड़ा संदेश गया. अमेरिका ने भी इसके बाद इस ओर कदम बढ़ाने के संकेत दिए. अब अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओब्रायन का कहना है कि अगर अमेरिका और यूरोपीय देश टिकटॉक को बैन कर दें, तो चीन के हाथ से एक जासूसी का हथियार छिन जाएगा.

फॉक्स न्यूज़ को दिए एक इंटरव्यू में ओब्रायन ने दावा किया कि ट्रंप प्रशासन चीनी ऐप्स को लेकर काफी सख्त है और आने वाले दिनों में टिकटॉक, वी चैट जैसे ऐप्स पर एक्शन दिख सकता है.

उन्होंने कहा कि भारत पहले ही इन पर बैन लगा चुका है, अब अगर अमेरिका भी ऐसा कर दे और फिर यूरोपीय देश भी कदम उठाएं तो चीन को बड़ा झटका लगेगा. इससी चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का एक जासूसी टूल खत्म हो जाएगा. जो बच्चे इसका इस्तेमाल कर रहे हैं, उनके लिए ये बढ़िया है लेकिन टिकटॉक इसके जरिए आपकी पूरी पहचान ले रहा है.

भारत में TikTok हुआ ‘शटडाउन’, ऐप ओपन करने पर दिख रहा ये नोटिस

अमेरिकी एनएसए ने दावा किया कि टिकटॉक अब हर इंसान का पर्सनल और प्राइवेट डाटा ले रहा है. उन्हें पता है कि आपके दोस्त और आपके पिता कौन हैं, आप कब कहां पर हैं. ये लोग आने वाले वक्त में इसका गलत इस्तेमाल कर सकते हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो भी ऐसा बयान दे चुके हैं और उन्होंने कहा था कि भारत ने चीनी ऐप्स को बैन करके एक बड़ा कदम उठाया है. पोम्पियो का कहना था कि अमेरिका भी इसपर विचार कर रहा है और इसको लेकर एक रिपोर्ट तैयार की जा रही है.

गौरतलब है कि चीन के साथ जारी विवाद के बीच भारत सरकार ने टिकटॉक समेत कुल 59 मोबाइल ऐप्स पर बैन लगा दिया था. सरकार की ओर से सुरक्षा का हवाला दिया गया और इनपर डाटा चोरी का आरोप लगाया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here