*आज दिनांक 22 मार्च 2021 को पुलिस उपमहानिरीक्षक / वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस लाइन के व्हाइट हाउस में सैनिक सम्मेलन कर जवानों के समस्याओं को जाना गया एवं निस्तारण*

0
7

आज दिनांक 22 मार्च 2021 को पुलिस उपमहानिरीक्षक / वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस लाइन के व्हाइट हाउस में सैनिक सम्मेलन कर जवानों के समस्याओं को जाना गया एवं निस्तारण हेतु संबंधित को निर्देशित किया गया इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक लाइन/ अपराध, पुलिस अधीक्षक यातायात, पुलिस अधीक्षक उत्तरी, पुलिस अधीक्षक दक्षिणी आदि अधिकारी एवं कर्मचारी गण मौजूद रहे।*
पुलिसकर्मी को तनाव मुक्त होना बेहद आवश्यक- डीआईजी/एसएसपी*

*डीआईजी/एसएसपी ने पुलिस कर्मियों की सुनी पीड़ा तत्काल निराकरण करने का दिया निर्देश*

 

गोरखपुर। जनपद के सभी थानों से दो दो समस्या ग्रस्त जवानों के समस्याओं से पुलिस लाइन व्हाइट हाउस में समस्याओं से अवगत होते हुए तत्काल समस्याओं के समाधान करने का संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश डीआईजी/ एसएसपी जोगिंदर कुमार ने देते हुए जनपद के सभी थाना अध्यक्षों को स्पष्ट शब्दों में निर्देश देते हुए कहा कि अपराध एवं अपराधियों पर अंकुश लगाना हर थानेदार की पहली प्राथमिकता तथा आए हुए फरियादियों की समस्याएं का निष्पक्ष निस्तारण करना जिम्मेदारी किसी भी थाना क्षेत्र में अवैध शराब व निष्कर्षण नहीं होना चाहिए अगर होने की सूचना आई तो तत्काल की जाएगी कार्रवाई अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण शील रहते हुए अपराध व अपराधियों पर लगाएं अंकुश। एक पुलिसकर्मी के द्वारा अपनी जिम्मेदारी का सही ढंग से पालन करने के लिए उसको तनाव मुक्त रखने की जिम्मेदारी उसके परिवार से ज्यादा विभाग के आला अधिकारियों की बनती है, लेकिन शायद ही कोई आलाधिकारी कभी एक आम पुलिसकर्मी के दुख-दर्द को समझने के लिए तैयार होता है। जिस तरह के बेहद तनावपूर्ण हालातों व संसाधनों के अभाव में एक जिम्मेदार व ईमानदार पुलिस वाले को लगातार काम करना पड़ता है, वह स्थिति आज के माहौल में बहुत चुनौतीपूर्ण है, स्थिति पर नियंत्रण बनाये रखने के लिए हर पुलिसकर्मी का तनाव मुक्त होना बेहद आवश्यक है। प्रत्येक कार्यदिवस में पुलिस कार्यालय पर आम जनमानस की समस्याओं की जनसुनवाई की जाती है, लेकिन कार्य में व्यस्तता के कारण पुलिसकर्मी अपनी समस्या उच्चाधिकारियों तक नहीं पहुंचा पाते हैं। जिसके चलते वह ड्यूटी में भी रुचि नहीं लेते हैं और तनाव में रहने लगते हैं। इससे कार्य करने की गुणवत्ता में भी कमी आती है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए पुलिसकर्मियों के वेलफेयर व उनकी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए डीआईजी/ एसएसपी जोगिंदर कुमार पुलिस लाइन व्हाइट हाउस में जनपद के सभी थानों से समस्या ग्रस्त हर थाने से दो दो सिपाहियों को सुना तथा उसे तत्काल निस्तारण करने का निर्देश दिया प्राप्त सभी शिकायतों को एक रजिस्टर में दर्ज किया गया। डीआईजी/एसएसपी ने कहा कि कर्मचारियों की समस्याओं का निराकरण होगा, बल्कि उनके मनोबल में भी वृद्धि होगी तथा वह पूर्ण मनोयोग से अपने कर्तव्य का निर्वहन करेंगें। अपराधियों में डर तथा आमजन में विश्वास बनाए रखने में पुलिसकर्मी हर संभव प्रयास करते है ड्यूटी के प्रति वफादार रहते हुए कड़े नियमों की पालन करते हुये। साफ-सुथरी वर्दी व पॉलिश वाले जूते पहनना भी इनकी ड्यूटी व अनुशासन का हिस्सा है। अब बढ़ती महंगाई के बीच वर्दी साफ-सुथरी रखने के लिए धुलाई करवाने पर खासा खर्च करना पड़ रहा है। और धुलाई भत्ता समय से नहीं मिल पाता तो अपनी पीड़ा कहे तो किससे कहे कहीं तो सुनेगा कोई की नहीं सुनेगा इसका भी असमंजस बना रहता है। अगर किसी के थाने का छत टपक रहा है वह भी एक समस्या बनी रहती है कि थानेदार हमारी समस्या का निराकरण करेंगे कि नहीं करेंगे अगर ऊपर के अधिकारी के जानकारी में जाएगा तो हमारे ऊपर भी कोई कार्यवाही कर सकता है इस डर से छोटे कर्मचारी ऊपर के कर्मचारियों से अपनी पीड़ा नहीं बता पाते हैं और थानों पर घुट घुट कर रहते हुए अपने ड्यूटीओं का निर्वहन करते हैं जिस प्रकार एक मछली पूरे तालाब को गंदा कर देती है, उसी प्रकार पुलिस विभाग में कुछ चुनिंदा कर्मचारियों की वजह से पुलिस विभाग की छवि धूमिल होती जा रही है। जनता का भरोसा जीते पुलिस कहीं रुक कर किसी के साथ गलत बर्ताव ना करें जिससे पूरी पुलिस जाति की छवि धूमिल हो
आज छोटे कर्मचारी से लेकर बड़े अधिकारियों तक सभी को आमजन के साथ सौहार्दपूर्ण व्यवहार एवं सहयोगात्मक रवैया अपनाने की आवश्यकता है, जिससे वह लोगों का भरोसा जीत सके। सेमिनार में पुलिस अधीक्षक दक्षिणी अरुण कुमार सिंह पुलिस अधीक्षक उत्तरी मनोज कुमार अवस्थी पुलिस अधीक्षक अपराध/लाइन डॉ महेंद्र पाल सिंह पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक आरएस गौतम सीओ ऑफिस अशोक शुक्ला बड़े बाबू सीबी सिंह अकाउंटेंट भुवाल वाचक इंस्पेक्टर सुनील राय सहायक वाचक अनिरुद्ध पांडेय प्रतिसार निरीक्षक उमेश दुबे रहे मौजूद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here