*एंबुलेंस चालक की धमकी 2 हजार रूपए दो, नही तो रास्ते मे उतार दूंगा*

0
40

*एंबुलेंस चालक की धमकी 2 हजार रूपए दो, नही तो रास्ते मे उतार दूंगा*

 

*गोरखपुर*/मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर में एक एंबुलेंस चालक का खतरनाक चेहरा सामने आया है। पुलिस की सख्ती के बावजूद एंबुलेंस चालकों की मनमानी नहीं रुक रही है। गुरुवार को देवरिया जिले के रुद्रपुर के रहने वाले रविंद्र कुशवाहा की तबीयत खराब होने पर उन्हें गोरखपुर के दाउदपुर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां जांच में कोरोना पॉजिटिव होने पर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। मेडिकल कॉलेज ले जाने के लिए एक निजी एंबुलेंस चालक से मरीज के परिजनों ने बात की तो चालक ने 3 हजार की मांग की। रास्ते में चालक 2 हजार रुपये की और डिमांड करने लगा और धमकी दी कि रुपये नहीं दोगे तो मरीज को रास्ते में ही उतार दूंगा। मजबूरी में परिजनों को 2 हजार रुपये और देने पड़े। बीआरडी मेडिकल कॉलेज पहुंचने पर परिजनों ने इसकी सूचना मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी इंचार्ज को दे दी। सूचना पर तत्काल पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस को कब्जे में लेकर चालक को हिरासत में ले लिया। वहीं, इस मामले में गुलरिहा थाना प्रभारी विनोद अग्निहोत्री का कहना है कि तहरीर मिली है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एंबुलेस को कब्जे में लेकर चालक को हिरासत में लिया गया है। एंबुलेंस चालक मुसम्मी अब्दुल्ला पुत्र स्वर्गीय महमूद हसन निवासी रसूल दशहरी बाग थाना गोरखनाथ जनपद गोरखपुर को गिरफ्तार किया गया। उनके पास से एक आदत एंबुलेंस, एक आधार कार्ड, एक आदत मोबाइल फोन,2 हजार रुपए नगद चालक के पास पाया गया है। उनके विरुद्ध 208/2021धारा 409,411,384,504,506 भादवि मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। बता दे कि पिछले दिनों पीड़िता से एंबुलेंस संचालक और चालकों द्वारा मनमानी की शिकायत मिलने के बाद जिलाधिकारी के विजेंद्र पांडियन ने शहर के अंदर और बाहर किराया निर्धारित कर मनमानी करने वालों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए थे। इसके बावजूद ऐसे मामले सामने आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here