*ग्रेटर नोएडा में नकाबपोश बदमाशों ने परिवारों को बंधक बनाकर दो घरों में डाली डकैती -*

0
153

*ग्रेटर नोएडा में नकाबपोश बदमाशों ने परिवारों को बंधक बनाकर दो घरों में डाली डकैती -*

 

ग्रेटर नोएडा में बदमाशों ने रविवार की रात एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। यहां जारचा कोतवाली के दो अलग-अलग गांवों में 5 नकाबपोश बदमाशों ने दो परिवारों को बंधक बना लिया। इसके बाद दोनों घरों में डकैती डाली गई हैं। एक घर से 40 हजार का कैश, 2 लाख रूपये के जेवरात और दूसरे घर से 7 हजार रुपये नकद व करीब एक लाख रुपये की जेवरात लूटे हैं। विरोध करने पर लोगों के साथ मारपीट की गई है। सुबह होने पर पडोसियों से दरवाजा खुलवाकर परिवार बाहर निकले। पुलिस को सूचना दी गई। थाना पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन की है। दूसरी ओर पुलिस ने मामला चोरी का बताया है। ग्रेटर नोएडा के डीसीपी राजेश कुमार सिंह का कहना है कि मामले में जांच की जा रही है।

जारचा कस्बे के निवासी भूपेंद्र सिंह उर्फ कालू टेंट कारोबारी हैं। रविवार की रात को वह पत्नी और 3 छोटे बच्चों के साथ घर में सो रहे थे। भूपेंद्र सिंह ने बताया कि रात में करीब 1ः30 बजे 5 नकाबपोश बदमाश हथियारों से लैस होकर घर में आ घुसे। लूटपाट करने लगे। विरोध करने पर पीड़ित के हाथ-पैर कर जान से मारने की धमकी दी। करीब एक घंटे बदमाशो ने जमकर घर की तलाशी ली। भूपेंद्र सिंह का कहना है कि अलमारी में रखे करीब 7 हजार रुपये का कैश और एक लाख रुपये के गहने लूट कर ले गये। भूपेंद्र ने बताया कि आरोपियों ने उसके पड़ोस में रहने वाले परिवार के बारे में जानकारी ली। शोर मचाने पर उनके हाथ-पैर बांधकर 200 मीटर घर से दूर जंगल में डालकर फरार हो गये।

*जारचा के बाद पड़ोसी गांव जमशेदपुर में डकैती डाली*

जारचा में कारोबारी भूपेंद्र सिंह के घर डकैती को अंजाम देने के बाद बदमाश पड़ोसी गांव जमशेदपुर पहुंचे। गांव में अनिल के घर धावा बोला। छत पर सो रहे अनिल के भाई अमित, पिता नरायाण सिंह, मां सावित्री और पत्नी मिथलेश को 5 नकाबपोश डकैतों ने बंधक बना लिया। करीब 2ः30 बजे से 3ः30 बजे तक घर में तांडव किया। विरोध करने पर इन लोगों के साथ मारपीट की। मारपीट कर इन लोगों से घर में रखे रुपए और बहनों के बारे में जानकारी हासिल की। घर में रखे करीब 40 हजार रुपये नकद और महिलाओं से पहने हुई जेवर लूटे। परिवार ने गहनों की कीमत करीब दो लाख रुपये बताई है। अनिल का कहना है कि करीब एक घंटा घर में रहने के बाद डकैत 3:30 बजे के करीब जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। बदमाशों ने घर छोड़ने से पहले परिवार के सारे सदस्यों को एक कमरे में बंद कर दिया। डकैतों ने परिवार के सभी मोबाइल फोन छीन कर घर के बाहर ही फेंक दिए।। इसकी वजह से यह लोग पुलिस को जानकारी नहीं दे सके।

*इस परिवार को भी दिन निकलने पर पड़ोसियों ने बंधन मुक्त किया*

सुबह होने पर पड़ोसियों ने कमरे की कुंडी खोलकर पूरे परिवार को बंधन मुक्त किया। इसके बाद वारदात के बारे में जारचा थाना पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस अनिल के घर पहुंची और छानबीन की है। दूसरी ओर लोगों का कहना है कि जारचा कस्बे में भूपेंद्र सिंह और जमशेदपुर गांव में अनिल के घर डकैतों के एक ही गैंग ने वारदातों को अंजाम दिया है।

*परिवारों ने चोरी लिखते हुए शिकायत दी है, कार्यवाही होगी: डीसीपी*

ग्रेटर नोएडा के पुलिस उपायुक्त राजेश कुमार सिंह ने इन दोनों वारदातों को चोरी की घटना बताया है। डीसीपी का कहना है कि परिवारों की ओर से चोरी की लिखित शिकायत दी गई है। एफआईआर दर्ज करके छानबीन की जा रही है। बदमाशों को जल्दी पकड़ लिया जाएगा। दूसरी ओर ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस ने डकैती की लिखित शिकायत लेने से इनकार किया। पूरा दिन मामले को डकैती की बजाए चोरी में दर्ज करने का दबाव बनाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here