*चार और निजी अस्पतालों को कोविड मरीजों के इलाज की अनुमति*

0
51

*चार और निजी अस्पतालों को कोविड मरीजों के इलाज की अनुमति*

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा कोविड अस्पतालों व बेडों की संख्या तेजी से बढ़ाने के निर्देश के बाद गोरखपुर में मंगलवार को चार और निजी अस्पतालों को कोविड मरीजों के इलाज की अनुमति प्रदान की गई है। इसके साथ ही जिले में निजी क्षेत्र के 12 अस्पताल कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए सक्रिय कर दिए गए हैं।

कोविड के दूसरे चरण में जिले में फातिमा अस्पताल और होप पैनेशिया में कोविड मरीजों के इलाज की सुविधा थी। शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मंडलीय समीक्षा बैठक में कोविड अस्पतालों व बेडों की संख्या बढ़ाने की हिदायत के बाद जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने निजी अस्पतालों से कोविड मरीजों के इलाज के लिए आवेदन मांगे थे। इलाज के लिए सरकार द्वारा तय मानकों पर परीक्षण के बाद सोमवार को फातिमा और होप पैनेशिया के साथ ही उदय हॉस्पिटल, गर्ग हॉस्पिटल, आरके इमरजेंसी, प्राइड हॉस्पिटल, आर्यन हॉस्पिटल व दुर्गावती हॉस्पिटल को कोविड मरीजों के भर्ती व इलाज की अनुमति प्रदान की थी। एडिशनल सीएमओ डॉ एनके पांडेय के मुताबिक मंगलवार को मल्ल हॉस्पिटल, बॉम्बे हॉस्पिटल, मेडीहब हॉस्पिटल व गोरखपुर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर को भी कोविड मरीजों को भर्ती करने व इलाज की अनुमति प्रदान की गई है। इन चारों अस्पतालों के क्रियाशील होने से कोविड मरीजों के लिए करीब 100 बेड अतिरिक्त सुलभ होंगे। इसके पहले के आठ निजी अस्पतालों में कोविड मरीजों के लिए 255 बेड की व्यवस्था है। जबकि सरकारी क्षेत्र के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 500 बेड का डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल पहले से ही क्रियाशील है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here