*टाल दी शादी कोरोना मरीजों की सेवा मे जुटी है डाॅ हर्षिता द्विवेदी*

0
29

*टाल दी शादी कोरोना मरीजों की सेवा मे जुटी है डाॅ हर्षिता द्विवेदी*
———-

——————
*30 अप्रैल को होनी थी शादी मेडिकल कालेज के कोविड वार्ड मे कर रही ड्रयूटी*

*गोरखपुर*/ बीआरडी मेडिकल कालेज के कोविड वार्ड  मे तैनात डाॅ हर्षिता द्विवेदी ने अपनी खुशियों को छोड़ अपने फर्ज को प्राथमिकता दी है। परिवार के लोग चाहते थे कि तय समय पर उनकी शादी हो जाय लेकिन इस संकट की घड़ी मे उन्होने मरीजों की सेवा करना असली धर्म माना और इस हालात मे शादी करने से इंकार कर दिया।
यहा बता दे डॉ हर्षिता गोरखपुर के  प्रतिष्ठित व्यवसायी संत कुमार धर द्विवेदी की पुत्री एवं गोला ब्लॉक के पूर्व प्रमुख डॉ विजयानंद तिवारी की नतिनी है,उन्होंने एमबीबीएस की पढ़ाई मेयो इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज से की।डॉ हर्षिता की बीते 30 अप्रैल को शादी होनी थी परंतु उन्होंने अपनी शादी के सारे कार्यक्रम निरस्त कर कोविड वार्ड में लोगो की सेवा का निश्चय किया वातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि जहां इस समय लोगो की खुशियां दांव पर लगी हैं वहाँ एक डॉक्टर होने के नाते मुझे सबसे पहले अपनी जिम्मेदारी को समझना चाहिए,जब तक कोरोना से पीड़ित लोग ठीक होकर अपने घर वापस नही जाते मुझे भी किसी तरह की खुशियां मनाने के कोई अधिकार नही,मेरा फ़र्ज़ बनता है कि मैं सेवा को ही अपना धर्म मानकर कोरोना पीड़ित लोगों का इलाज करूँ,शादी फिर कभी हो सकती है पर जिंदगी एक बार चली जाय तो दुबारा नही आ सकती,जान की परवाह न करते हुए उन्होंने अपने पेशे को ही अपना धर्म बना लिया,उनका मानना है हम डॉक्टर्स अगर अपनी खुशियां देखने मे लग जाएंगे तो पीड़ित मरीजों की कौन परवाह करेगा,हमारा कार्य सेवा है जो हमे हमारे धर्म से जोड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here