*ताश का जोकर* और अपनों की *ठोकर* अक्सर *बाजी घुमा देती है*

0
20

*ताश का जोकर* और अपनों की *ठोकर*
अक्सर *बाजी घुमा देती है*

*अपनी सहनशीलता को बढाइए*
*छोटी मोटी घटना से हताश मत होइए*

*जो चंदन घिस जाता है वह भगवान के मस्तक पर लगाया जाता है*

*और जो नही घिसता वह तो सिर्फ मुर्दे जलाने के काम ही आता है 🙏 सुप्रभात् 🙏जय श्री कृष्णा *इंसान बड़ा होता है तो बचपन भूल जाता है,*
*शादी हुई तो माता पिता को भूल जाता है*
*बच्चे हुए तो भाई बहन को भूल जाता हैं*
*अमीर होता है तो गरीबो को भूल जाता है*
*जब वृद्ध होता है तो भुला हुआ सब याद करता है और रोता है।*

*🙏यकीन मानिए कड़वा है पर सच है🙏*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here