*नज़र लागे राजा तुहरे बंगले पर ; गरीबों का प्रधानमंत्री आवास अमीरों के नाम – पैसिया ललाइन में अनुसूचित जाति के लोग आकाश तले पन्नी*

0
65

नज़र लागे राजा तुहरे बंगले पर ; गरीबों का प्रधानमंत्री आवास अमीरों के नाम – पैसिया ललाइन में अनुसूचित जाति के लोग आकाश तले पन्नी डाल कर रहे गुजारा लक्ष्मीपुर क्षेत्र के ग्राम पंचायत पैसिया ललाइन की रहने वाली समलावती पत्नी प्रदीप ने बताया कि हमारे पास चार बच्चे हैं । अनुसूचित जाति की महिला हूं ।पति मेहनत मजदूरी कर किसी तरह से भरण पोषण करता है । हमारे पास एक इंच कृषि की भूमि नहीं है ।फिर भी प्रधानमंत्री आवास नहीं मिला ।जब कि गांव में जिनके पास पक्का मकान है ।उसे ही प्रधान सचिव दे रहे हैं ।

बिरेंदर का कहना है प्रधान मंत्री आवास योजना सरकार ने जब चलाया तो मुझे विश्वास था की आवास मिलेगा । चूंकि गुजरात में रहकर मजदूरी करता हु ।बीस साल से आकाश के नीचे पन्नी डाल कर मेरा परिवार रहता है ।चार बच्चे हैं । इतना कमाई भी नहीं हो पा रहा है कि जिससे पक्का मकान बना सके । लेकिन हमारे गांव में जिनके पास पक्का मकान है ।प्रधान व सचिव उसी पर मेहरबान है । जिससे प्रधान मंत्री आवास योजना से बंचित हो गया हूं ।अगर सही तरीके से जांच हुआ होता तो अपात्रों को आवास नहीं मिलता और न ही हमारे जैसे गरीब परिवार के लोग प्रधान मंत्री आवास से संचित होते ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here