*नोएडा पुलिस कमिश्नर को पब्लिक से मिली तालियां, बच्चों को टॉफियां बांटकर आभार जताया, पढ़िए पूरी खबर -*

0
53

*नोएडा पुलिस कमिश्नर को पब्लिक से मिली तालियां, बच्चों को टॉफियां बांटकर आभार जताया, पढ़िए पूरी खबर -*

 

 

गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार सिंह सोमवार की रात शहर के व्यस्ततम बाजार सेक्टर-18 में पहुंचे। वहां महिलाओं और युवतियों से मुलाकात की। उन्हें मिशन शक्ति के बारे में जानकारी दी। महिलाओं से सजग रहने और अपने अधिकारों का निसंकोच इस्तेमाल करने की अपील पुलिस कमिश्नर ने की। कमिश्नर को अपने बीच देखकर लोग उत्साह से भर गए और तालियां बजाकर उनका अभिनंदन किया। जवाब में पुलिस कमिश्नर ने वहां मौजूद बच्चों को टॉफियां बांटकर धन्यवाद ज्ञापित किया।

 

गौतमबुद्ध नगर पुलिस नवरात्र के दौरान महिलाओं के सशक्तिकरण और जागरूकता के लिए मिशन शक्ति अभियान चला रही है। इसके तहत पुलिस कमिश्नर से लेकर निचले स्तर तक के तमाम पुलिसकर्मी महिलाओं को जागरूक कर रहे हैं। इसी सिलसिले में सोमवार की रात पुलिस कमिश्नर आलोक कुमार सिंह और एडिशनल पुलिस कमिश्नर लव कुमार सेक्टर-18 पहुंचे। कमिश्नर ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा, “आप लोग निश्चिंत रहें। शहर में पुलिस पूरी तरह सजग है। हम चाहते हैं कि आप सभी अपने अधिकारों का उपयोग करें। खुद को सुरक्षित समझें। किसी भी प्रतिकूल परिस्थिति में घबराने की आवश्यकता नहीं है। तत्काल पुलिस से मदद मांगे। दिन-रात चौबीसों घंटे गौतमबुद्ध नगर पुलिस आप लोगों के लिए हाजिर रहेगी।” पुलिस कमिश्नर ने महिलाओं और युवतियों को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी। इस पर वहां मौजूद भीड़ गदगद हो गई और तालियां बजाकर धन्यवाद ज्ञापित किया। इसके बाद आलोक कुमार सिंह ने टॉफियां मंगवाई और महिलाओं के साथ मौजूद बच्चों को बांटी।

 

आलोक कुमार सिंह ने कहा, यह अभियान पूरे नवरात्र जारी रहेगा। इस दौरान गौतमबुद्ध नगर के शहरी और ग्रामीण इलाकों में मिशन शक्ति की जागरूकता वैन भ्रमण कर रही है। डीसीपी, एसीपी और इंस्पेक्टर स्तर के तमाम पुलिस अधिकारी महिलाओं को जागरूक करने के लिए कार्यक्रमों में भाग ले रहे हैं। जिले के स्कूलों, उच्च शिक्षण संस्थानों, बाजारों, बड़े कामकाजी स्थलों और सार्वजनिक स्थानों पर महिला जागरूकता के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अपील पर यह कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। निसंदेह इसका महिलाओं और युवतियों को बड़ा लाभ मिलेगा। जिले के सभी थानों में हेल्प डेस्क भी बनाई गई हैं। उन हेल्प डेस्क पर भी महिलाओं को जागरूक किया जा रहा है।

 

आपको बता दें कि गौतमबुद्ध नगर में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम लागू होने के बाद आलोक कुमार सिंह पहले पुलिस आयुक्त तैनात किए गए। आलोक कुमार सिंह ने पुलिस की छवि को बदलने के लिए कई उल्लेखनीय प्रयास किए हैं। जिसमें महिला मामलों को देखने के लिए एक पैरेलल वर्टिकल खड़ा किया गया है। जिसमें डीसीपी स्तर के अधिकारी वृंदा शुक्ला को नियुक्ति दी गई है। जिले के सभी थानों में महिला मामलों की जांच और निगरानी करने के लिए महिला पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई है। कोरोना संकट काल के दौरान गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने मानवीय पहलू पर काम किया। जिसकी बदौलत पब्लिक से पुलिस को बड़ी सराहना मिली। पुलिस ने बुजुर्गों, महिलाओं और बीमारों की लॉकडाउन पीरियड के दौरान बड़ी मदद की। जिसकी बदौलत ट्राइसिटी टुडे की ओर से किए गए एक सर्वे में गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट के पक्ष में करीब 90 फ़ीसदी लोगों ने अपना मत रखा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here