*फर्जीवाड़ा: नगर पालिका महराजगंज में बड़ा खेल, गला फँसता देख लिपिक ने दी कोतवाली में तहरीर*

0
15

फर्जीवाड़ा: नगर पालिका महराजगंज में बड़ा खेल, गला फँसता देख लिपिक ने दी कोतवाली में तहरीर

महराजगंज: नगर पालिका सदर में फर्जी नोटरी के आधार पर परिवार रजिस्टर का नकल बनवा कर वरासत के लिए एक व्यक्ति ने ऑनलाइन करवा दिया। जब मामला तूल पकड़ने लगा तो नगर पालिका प्रशासन के लिपिक पर लटकी तलवार को नकल वापस ले ली गयी और सदर कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत करने को लेकर तहरीर डाल दी गयी है।
मिली जानकारी के अनुसार नगर पालिका परिषद के धनेवा-धनेई स्थित जियाउल पुत्र साबिर द्वारा 17 मई 2021 को कूटरचित प्रार्थना पत्र और फर्जी नोटरी लगा कर बताया गया कि हम पांच भाई है सभी विवाहित हैं, चार भाईयों और उनकी पत्नियों को मृत दिखा कर अकेले ही नगर पालिका परिषद के कर्मियों से साथ गांठ कर के फर्जी दस्तावेजों के आधार पर परिवार रजिस्टर का नकल बनवा कर वरासत के लिए ऑनलाइन करवा लिया गया। जबकि तीन भाई और चार औरतें जिंदा हैं।
जिले के जिम्मेदार प्रशासनिक अफसरों के नाक के नीचे फर्जी दस्तवेजो के आधार पर परिवार रजिस्टर का नकल बनना उसके बाद वरासत के लिए ऑनलाइन हो जाना किसी जिम्मेदार की शह के बिना मुमकिन नहीं है।
जब इस फर्जीवाड़े की कलई खुली तो अपनी नौकरी बचाने के लिए नगर पालिका परिषद के लिपिक मोहम्मद निसार ने फर्जी दस्तवेजों के नाम पर नकल बनवाने वाले जियाउल पुत्र साबिर निवासी धनेवा- धनेई के ऊपर मुकदमा लिखने के लिये कोतवाली में तहरीर दे डाला।
सवाल है कि ये नकल अकेले जियाउल ने बनायी या फिर इसमें नगर पालिका की भी सांठगांठ है, ये गंभीर जांच का विषय है, साथ ही इसके पहले भी क्या परिवार रजिस्टर की नकल जारी करने में जालसाजी होती रही है? इसकी सच्चाई निष्पक्ष जांच के बाद ही सामने आ सकेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here