*बाबू मोहन सिंह जिला अस्पताल के इमरजेंसी में प्राइवेट एंबुलेंस चालक भिड़े डाक्टर से डी एम, एस पी ने लिया संज्ञान छः एंबुलेंस सहित चार चालकों का हुआ चालान।* *रिपोर्ट – अवनीश शंकर राय*

0
15

*बाबू मोहन सिंह जिला अस्पताल के इमरजेंसी में प्राइवेट एंबुलेंस चालक भिड़े डाक्टर से डी एम, एस पी ने लिया संज्ञान छः एंबुलेंस सहित चार चालकों का हुआ चालान।*
*रिपोर्ट – अवनीश शंकर राय*

देवरिया। जिला अस्पताल की इमरजेंसी में बीते दिनों रात में मरीज को निजी एंबुलेंस से मेडिकल कालेज रेफर करने का दबाव बनाने पर हुए विवाद को लेकर को कोतवाली पुलिस ने छह एंबुलेंस को सीज कर चार चालकों का चालान कर दिया। इमरजेंसी में शुक्रवार की रात डॉ. गुलाम नबी की ड्यूटी थी। उन्होंने गंभीर मरीज को 108 नंबर एंबुलेंस से मेडिकल कालेज गोरखपुर जाने के लिए रेफर किया था। इसी बीच निजी एंबुलेंस चालक पहुंचे और मरीज को निजी एंबुलेंस से ले जाने की बात करते हुए चिकित्सक से उलझ गए। इससे मरीजों का दो घंटे तक इलाज प्रभावित रहा। चिकित्सक ने इसकी जानकारी सीएमएस को दी। सीएमएस की सूचना पर डीएम और एसपी पहुंच गए। पुलिस ने दर्जन भर एंबुलेंस समेत चालकों को कोतवाली ले गई। इस संबंध में कोतवाल चंद्रभान सिंह ने बताया कि छः एंबुलेंस सीज की गई है। चालक कमलेश, सुग्रीव, लक्ष्मण और मुकेश का चालान किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here