*बुधवार की रात ग्राम देवरिया थाना हरपुर बुदहट में लाल बिहारी विश्वकर्मा के लड़की की शादी थी। देर रात*

0
79

बुधवार की रात ग्राम देवरिया थाना हरपुर बुदहट में लाल बिहारी विश्वकर्मा के लड़की की शादी थी। देर रात द्वारपूजा के बाद बारात में आर्केस्ट्रा देखने को लेकर गांव के कुछ लड़कों में विवाद हो गया, जिसको गांव के ही लोगों ने शांत करवा दिया।
गुरुवार की सुबह लगभग छह बजे गांव निवासी चंद्रपाल पुत्र रामअचल रात्रि में हुए कहासुनी को लेकर हरिशंकर के घर पहुंच गया, और हरिशंकर सिंह पुत्र स्व. दिवाकर सिंह उम्र 65 को लाठी से पीट दिया हरिशंकर ने जैसे ही शोर मचाया चंद्रपाल वहाँ से भाग कर अपने घर पहुँच गया। घर के अंदर सो रहे उनके बेटे विजय सिंह उम्र 40 व अयोध्या सिंह उम्र 30 और नाती अमन सिंह को जैसे ही शोर सुनकर बाहर निकले उन्होंने देखा कि हरिशंकर सिंह घायल अवस्था में दरवाजे पर गिरे हुए है।
परिवार में ही किसी ने 108 पर भी फोन कर दिया और हरिशंकर के बेटे व नाती उलाहना लेकर चंद्रपाल के घर पहुंच गए। वहाँ पहले से ही तैयार रामअचल उर्फ मुट्टटूर पुत्र जितई, चंद्रपाल पुत्र रामअचल, हन्नु पुत्र रामअचल, देवमंन पुत्र ललित और लालविहारी विश्वकर्मा ने मिलकर लाठी डंडा और धारदार हथियार से विजय सिंह,अयोध्या, अमन व इंदल सिंह पर हमला कर दिया, जिसमें ये लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना की सूचना मिलते ही सोनवर्षा चौकी प्रभारी सुशील सिंह चौकी के सिपाहियों के साथ पहुंच कर घायलों को तुरंत अस्पताल भेजवाया। जहां सहजनवां सीएचसी पहुंचते -पहुँचते विजय सिंह पुत्र हरिशंकर की मृत्यु हो गई। विजय के गांव में उनके मृत्यु की शुचना मिलते ही पूरे गांव में सन्नाटा छा गया। वहीं पत्नी उर्मिला और बेटी ज्योति उम्र 20 वर्ष, बेटा शिवम, 14 व अमन 20 का रो -रो कर बुरा हाल है। पत्नी उर्मिला बार बार बेहोश हो जा रही है। घटना की सूचना जैसे जिला प्रशासन को मिला जिले की पूरी पुलिस फोर्स हरकत में आ गई और थोड़ी ही देर में देवरिया गांव पूरी तरह से पुलिस छावनी में तब्दील हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here