*मिशन शक्ति : 14 महिलाओं के लिए सिलाई मास्टर बन गईं महराजगंज की पूर्णिमा————*

0
52

*मिशन शक्ति : 14 महिलाओं के लिए सिलाई मास्टर बन गईं महराजगंज की पूर्णिमा——————————-*

*फरेंदा ब्लॉक के सैनिक ग्राम उदितपुर की रहने वाली पूर्णिमा थापा आज किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं। उन्होंने अपने संघर्षों के बूत एक बेहतर मुकाम हासिल किया है। परिवार में किसी सदस्य की कोई आय न होने के कारण घर-गृहस्थी चलाने को लेकर परेशान रहने वाली पूर्णिमा अपने इन्हीं संघर्षों की बदौलत आज तरक्की की सीढि़यां चढ़ रही हैं। वे न सिर्फ खुद को बल्कि 14 अन्य महिलाओं को भी आत्मनिर्भर बना दिया है।*

*आर्थिक तंगी से गुजर रहीं पूर्णिमा थापा को किसी ने समूह बनाकर रोजगार शुरू करने की सलाह दी थी। इसके बाद बुलंद हौसले वाली पूर्णिमा थापा ने गांव की महिलाओं को इकट्ठा कर एक समूह बनाया। एनआरएलएम के रिवाल्विंग फंड से 15 हजार लेकर सिलाई मशीन खरीदकर कपड़ों की सिलाई शुरू की। जब सीआईएफ फंड से एक लाख दस हजार रुपये मिले तो सिलाई में रुचि रखने वाली समूह की राधा, नमिता, ललिता थापा, सीता थापा, लक्ष्मी को साथ लेकर स्कूल ड्रेस सिलना शुरू कर दिया। इन महिलाओं का काम देखकर गांव की कुछ और महिलाएं भी समूह से जुड़ गईं।*

*अब समूह में 14 महिलाएं स्वरोजगार अपनाकर पूरी तरह से आत्मनिर्भर बन गई हैं। स्कूल ड्रेस सिलकर ये महिलाएं आज अच्छी कमाई कर रही हैं। कुछ दिनों में ही पूर्णिमा सिलाई में इतनी पारंगत हो गईं कि अब ऑर्डर पूरा करना कठिन होने लगा है। महिलाएं पूर्णिमा को सिलाई मास्टर कहकर पुकारती हैं।*

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here