*मुर्गी फार्म केंद्र के बदबू से लोग परेशान, महामारी का शिकार होने की आशंका पर ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से लगाई गुहार*

0
31

*मुर्गी फार्म केंद्र के बदबू से लोग परेशान, महामारी का शिकार होने की आशंका पर ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री से लगाई गुहार*

*महराजगंज* कोल्हुई थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत इलाहाबास निवासी ग्रामीण व पूर्व ग्राम प्रधान राजीव मौर्य द्वारा कवलपुर और इलाहभास के बीच मे स्थित मुर्गी फार्म को लेकर जताई गई विरोध जिससे कई गंभीर बीमारियां पनपने का डर बना हुआ है।गौरतलब हो ग्रामीणों द्वारा दिनांक 10 जून को उपजिलाधिकारी फरेन्दा के माध्यम से मानवधिकार आयोग अध्यक्ष ,मुख्यमंत्री, समेत कई उच्चधिकारियों को शिक़ायत पत्र भेजकर कवलपुर निवासी इस्तेखार अहमद पुत्र तबारक हुसैन के प्रति शिकायत की है कि उक्त युवक द्वारा पिछले कई सालो से घने आबादी से सटे हुए अर्थात नियमो को ताख पर रखकर 100 फ़ीट की लंबाई में मुर्गी पालन केंद्र चलाया जा रहा जिससे उत्पन्न हो रही दुर्गंध से ग्रामसभा कवलपुर व इलाहाबास के टोला फौदारजोत,कोइरीपुर,हौसिलपुर गुजरातपुर के ग्रामीण बेहाल है वही फार्म से उत्पन्न हो रही गंदगी के कारण टोलो में बड़ी बड़ी मक्खियां भी पैदा हो गई जो खाने पीने के वस्तुओं पर बैठ जाती है जिससे गंभीर बीमारी फैलने की आशंका बनी हुई है। जानकारी के लिए बता दे ग्रामीणों द्वारा शिकायत पत्र में यह भी कहा गया है कि इस्तेखार अहमद उक्त केंद्र से धनार्जन कर बगल में एक और उच्च कोटि का मुर्गी पालन केंद्र बनाने की तैयारी कर रहा है जिससे वह लोग घबराए हुए है वही शिकायतकर्ताओं ने जिम्मेदारों से उक्त मुर्गी पालन केंद्र को आबादी से हटाकर वीरान जगह निर्माण कराने की गुहार लगाई है।उक्त मामले में ग्रामीणों द्वारा बताया गया उक्त संचालक मनमानी तरीके से मुर्गी फार्म केंद्र चलाता है वही विरोध करने पर झगड़ा पर उतारू हो जाता है जिसकी शिकायत कई बार पशुपालन विभाग से की गई है लेकिन फिर भी विभाग कोई सुध नही ले रहा साथ ही ग्रामीणों ने कहा अगर जल्द से जल्द विभाग मामले को गंभीरता से नहीं लेगी और उक्त मुर्गी फार्म को गांव के बीच से नही हटवाया तो गांव का प्रत्येक व्यक्ति गंभीर महामारी की चपेट में आ जाएगा जिसके जिम्मेदार शासन-प्रशासन होंगे। बड़ा सवाल यह कि उक्त प्रकरण की शिकायत करने पर भी आखिर कोरोना वैश्विक महामारी के दौरान अधिकारियो ने क्यों किया नजरअंदाज, क्या पशुपालन विभाग ग्रामीण और संचालक के बीच भीषण झगड़े के इन्तेजार में है। इस संबंध में उपजिलाधिकारी फरेन्दा अभय कुमार गुप्ता द्वारा बताया गया कि ग्रामीणों की शिकायत आयी है जिसको गंभीरता से लेते हुए फार्म विस्तार कार्य पर रोक लगा दिया गया है यदि इसके बाद भी कोई निर्माण कार्य कराया जाएगा तो संचालक के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here