*युवा कवियों एवं शायरों ने डॉ रजनीकान्त श्रीवास्तव “नवाब” को दी श्रद्धांजलि*

0
10

युवा कवियों एवं शायरों ने डॉ रजनीकान्त श्रीवास्तव “नवाब” को दी श्रद्धांजलि

 

गोरखपुर। लिटरेरी सोसायटी के तत्वावधान में महानगर कैंप कार्यालय पर एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया।

जिसमें गोरखपुर शहर के वरिष्ठ चिकित्सक एवं साहित्य प्रेमी डॉक्टर रजनीकांत श्रीवास्तव “नवाब” को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। साथ ही साथ 2 मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना भी किया गया।

गोरखपुर लिटरेरी सोसायटी के संस्थापक, शायर एवं समाजसेवी ई.मो. मोहम्मद मिन्नतुल्लाह ने बताया कि डॉ रजनीकांत श्रीवास्तव “नवाब”गोरखपुर लिटरेरी सोसायटी के संरक्षक के रूप में अनुत्क्रमणीय योगदान दे रहे थे जिन को लंबे समय तक याद किया जाएगा।

वही गोरखपुर शहर के अंतरराष्ट्रीय शायर डॉक्टर कलीम कैसर ने कहा कि डॉक्टर रजनीकांत श्रीवास्तव नवाब सदैव हमारे बीच जिंदा रहेंगे क्योंकि उनके जीवन का उद्देश्य हमेशा युवाओं को प्रोत्साहन देना था और साहित्य और कला को जिंदा रखने की जद्दोजहद में उनकी पूरी जिंदगी कटी।

शमशाद आलम (एडवोकेट) ने कहा कि डॉक्टर साहब अद्भुत शख्सियत के मालिक थे सदैव दूसरों की सेवा में लगे रहते थे। सरदार जसपाल सिंह ने कहा कि डॉक्टर रजनीकांत श्रीवास्तव “नवाब” हमेशा युवाओं को प्रोत्साहन देने की बात करते थे।

गोरखपुर लिटरेरी सोसायटी के महानगर अध्यक्ष वसीम मजहर गोरखपुरी ने कहा कि डॉक्टर रजनीकांत श्रीवास्तव नवाब समय-समय पर छोटे-छोटे कार्यक्रमों का आयोजन करते थे और उसमें स्वयं भी अपनी उपस्थिति दर्ज करा कर युवा पीढ़ी को प्रोत्साहन देते थे।

इस अवसर पर इज्जत गोरखपुरी, सौम्या यादव ,शाहीन शेख, मुस्तफा खान, कुमार विनम्र, अयान खान, मिनहाज सिद्दीकी, अंकिता सिंह, सलीम मजहर, इकबाल अशरफ, कासिम रजा, गणेश दुबे, पूजा यादव, गौरी त्रिपाठी, सिराज सानू, अरशद अहमद, अरशद जमाल सामानी, सुधीर कुमार झा, विजय कुमार श्रीवास्तव, राशिद कलीम अंसारी, राशिद हुसैन, ऐश्वर्या, शालिनी दुबे, सुमैया सिद्दीकी, आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here