*विमान कंपनी बोइंग अपने सीएसआर फंड से गोरखपुर में जो 200 बेड का कोविड वार्ड बनाने जा रही है*

0
42

 विमान कंपनी बोइंग अपने सीएसआर फंड से गोरखपुर में जो 200 बेड का कोविड वार्ड बनाने जा रही है उसके लिए एम्स के साथ ही गोरखनाथ विवि को भी विकल्प के तौर पर रखा गया है। विश्वविद्यालय परिसर में स्थित आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज इसके लिए सबसे उपयुक्त जगह पाई गई है।

संभावन तलाशने के लिए विमान कंपनी के अधिकारी के साथ ही कमिश्नर, डीएम, सीडीओ और डीपीआरओ ने बुधवार को परिसर का निरीक्षण कर मीटिंग भी की। संभावना जताई जा रही है कि 200 बेड का कोविड अस्पताल, एम्स की जगह सदर तहसील क्षेत्र स्थित सोनबरसा गांव स्थित गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय के आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज भवन में ही बनाने पर सहमति बन रही है। यही वजह रही कि बुधवार को अफसरों की बैठक के बाद पंचायतीराज विभाग के करीब 25 सफाइकर्मियों ने वहां सफाई भी शुरू कर दी।

गुरु गोरखनाथ विवि में बनाया जा सकता है 200 बेड का कोविड अस्पताल
बोइंग कंपनी की तरफ से 200 बेड का कोविड अस्पताल बनाने की तैयारी चल रही है। इसके लिए तीन विकल्प देखे गए हैं। गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय परिसर में स्थित आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज को भी विकल्प के तौर पर रखा गया है। जहां के लिए अनुमति मिलेगी, वहां के लिए काम शुरू हो जाएगा।

– जयंत नार्लिक, कमिश्नर
हालांकि प्रशासनिक अफसर अभी इसपर चुप हैं। उनका कहना है कि अभी‌ सिर्फ विकल्प के तौर पर इस जगह को देखा जा रहा है ताकि एम्स में कोई दिक्कत हो तो प्रशासन के पास दूसरी जगह उपलब्ध हो ताकि तत्काल निर्माण कार्य शुरू कराया जा सके।

बोले कमिश्नर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here