*सिद्धार्थ नगर के जिला स्पताल की हालत बद से बदतर*

0
58

*सिद्धार्थ नगर के जिला स्पताल की हालत बद से बदतर*

गोरखपुर
गोरखपुर/सिद्धार्थ नगर के जिला प्रशासन ने कोविड में लगे डाक्टर या अन्य अधिकारियों के नबर को सार्वजनिक रूप से बाट दिया है जिसको भी कोई दिक्कत या तकलीफ हो वह इन अधिकारियों या डाक्टर से सीधे संपर्क कर सकता है लेकिन यह सब नंबर सिर्फ दिखावे के हैं आज सिद्धार्थ नगर के इमरजेंसी में मेरे एक रिलेटिव को सांस लेने में दिक्कत की वजह से भर्ती कराया गया है लेकिन इलाज के नाम पर सिर्फ खाना पूर्ति किया जा रहा जिस जिस डाक्टर को फोन मिलाया गया ओ सब कोरोना से पीड़ित हैं ओ खुद अपना इलाज करा रहे कई डाक्टर तो फोन भी उठाना मुनासिब नहीं समझते सिद्धार्थ नगर के मुख्य चिकित्सधिकारी को करीब 10 बार फोन मिलाया गया लेकिन उनका फोन एक बार भी नहीं उठा डी एम साहेब से मै पूछना चाहता हूं कि जिनकी ड्यूटी लगी है ओ खुद अपना इलाज दूसरे शहर में करा रहे तो सिद्धार्थ नगर के जिला स्टपताल में कौन डाक्टर इलाज कर रहे हैं और मुख्य चिकित्सा धारी फोन क्यों नहीं उठा रहे इसका जिम्मेदार कौन है क्या यही व्यवस्था है प्रशासन का श्री मान जी सिर्फ नंबर बाटने या निर्देश देने से काम नहीं चलेगा इस पर थोड़ा आप को विशेष रूप से ध्यान देने की आवश्यकता है मुख्य चिकित्सधिकारी सिद्धार्थ नगर और जिला धिकारी सिद्धार्थ नगर को कितनी बार फोन मिलाता रहा अंत में मेरे पेशेंट ने आक्सीजन के अभाव में दम तोड दिया वाह क्या सिस्टम है सरकार और अधिकारी सिर्फ बाते बड़ी बड़ी कर रहे हैं स्वास्थ्य महकमा जिसको धरती का भगवान कहा जाता है इतना निर्दई कैसे हो गया बहुत अफसोस हो रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here