बैंकों से ठगी करने वाले गैंग के सरगना सहित 4 लोगों को एसटीफ की नोएडा यूनिट ने गिरफ़्तार,रिपोर्टर – रोहित भरद्वाज

0
60

नोएडा -: उत्तर प्रदेश एसटीफ की नॉएडा यूनिट ने थाना 20 नोयड़ा पुलिस के सहयोग से बैंकों से अच्छे सिबिल रिकार्ड धारकों की जानकारी चुरा कर कूटरचित क्रेडिट कार्ड बनाकर बड़े पैमाने पर बैंकों से ठगी करने वाले गैंग के सरगना सहित 4 लोगों को फ़िल्मसिटी के पास से गिरफ़्तार करने में सफलता प्राप्त की है। ये पहले कूटरचित दस्तावेज़ो का इस्तेमाल करके फ़र्ज़ी क्रेडिट कार्ड्ज़ बनवाते थे फिर कैश/शॉपिंग लिमिट को प्रयोग करके फ़रार हो जाते थे। इसी तरीक़े से धोखाधड़ी के कारण थाना 20 नोयड़ा पर अभियोग पंजीकृत है। इसके अलावा दर्जनो बैंक और फ़ाइनैन्स कम्पनियों से इसी प्रकार कूटरचित दस्तावेज़ो का प्रयोग करके कई करोड़ों का क्रेडिट कार्ड फ़्रॉड करने की बात प्रकाश में आयी है।अब तक इस संगठित गिरोह के कई बैंक अकाउंट पता चले है। जिसमें जमा धनराशी को फ़्रीज़ कराने की कार्यवाही चल रही है गैंग का सरग़ना जतिन पूर्व में दिल्ली से दो बार जेल चुका है ।
गिरफ्तार किए गए आरोपी अच्छे लोगों के केवाईसी डॉक्यूमेंट को यूज़ करके नए कनेक्शन फर्जी आईडी प्रूफ पर जारी करा लेते थे और उसके उपरांत अमेजॉन शॉपिंग एप्लीकेशन के द्वारा क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन अप्लाई करते थे। जतिन और कपूर जो कि इस गैंग के सरगना है वह हजार रुपए प्रति ग्राहक केवाईसी डॉक्युमेंट्स अपने एक सहयोगी मुकेश जुनेजा से खरीदते और अच्छे ग्राहकों के KYC अभिलेख कूटरचित करके अपने गैंग के लोगो जैसे पकड़े गए कर्ण और राजू आदि के फोटो लगा देते थे। इस केस में इन्होंने अपने आप को एचसीएल नोएडा में कार्यरत दिखा कर लगभग 20 से ज्यादा कार्ड बनवाये थे, जिन्हें इनके द्वारा गौरव शर्मा नामक व्यक्ति द्वारा फर्जी बिजनेस दिखा कर विभिन्न बैंकों से ली गई कार्ड स्वाइप मशीन से 3 से लेकर 3.5 प्रतिशत कमीशन पर लगभग 80 लाख का कैश प्राप्त किया गया था। इस केस में कर्ण और राजू के फोटो इस्तेमाल हुए थे। वर्तमान में मुख्य अभियुक्त जतिन ने कपूर और राजू की मदद से गुड़गांव, करनाल, दिल्ली में फ्लैट किराए पर ले रखे थे जिनमें वेरिफिकेशन के वक्त उपस्थित हो जाते थे।

बरामदगी
1-क़रीब 18 लाख पचास हज़ार बैंक खाते में फ़्रीज़ किया गया
2-6,23,000 कैश
3- 44 gms के सोने के कुल 7 बिस्किट
4- 7.28gms के कान के सोने के टप्स
5- 8 पैन कार्ड
6- 8 आधार कार्ड
7 – 1 वोटर कार्ड
8-60 क्रेडिट कार्ड
9- 16 POS मशीन
10-9 डेबिट कार्ड्ज़
11- 2 गाड़ियाँ ( डिज़ायर, टेरानो)
12- अन्य महत्वपूर्ण काग़ज़ात

गिरफ़्तारी
1- जितेंद्र गुलाटी@ जतिन, रोहिणी दिल्ली ( गैंग लीडर)
2- कपूर सिंह दाहिया रोहिणी दिल्ली
3- त्रिलोक नाथ शर्मा रोहिणी दिल्ली
4- कुलदीप@करन , जनहागिरपुरी दिल्ली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here