मध्यप्रदेश से लेकर हरियाणा तक स्कूल खोले जाने के विरोध में डिजिटल विरोध प्रदर्शन,रिपोर्टर – रंजना भाटिया

0
28

21 सितंबर से कक्षा 9 से 12 तक स्कूल खोले जाने के खिलाफ अभिभावकों का डिजिटल विरोध प्रदर्शन मोमबत्ती जलाकर किया विरोध

पालक महासंघ जिला इकाई सतना के आवाहन पर डिजिटल विरोध प्रदर्शन आज शाम 5:00 बजे जूम एप के माध्यम से डिजिटल विरोध आयोजित किया गया.

प्रदर्शन का मुख्य उद्देश्य सरकार द्वारा भीषण करोना काल में हड़बड़ाहट में कक्षा नौवीं से बारहवीं तक स्कूल खोले जाने के आदेश का विरोध प्रदर्शन था

कार्यक्रम की अगुवाई कर रहे एडवोकेट आदित्य मिश्रा ने कहा आज जहां पूरा विश्व करोना की चपेट में है लाखों जाने जा चुकी हैं तो किस बात की इतनी हड़बड़ाहट है कि बच्चों को मौत के मुंह में धकेलने बिना किसी वैक्सीन के स्कूल खोलने का फैसला लिया जा रहा है.

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता के रूप में पूरे देश से सम्मिलित होंगे समाजसेवी.

1) श्रीमती अंबिका शर्मा जी.
( संस्थापक एवं राष्ट्रीय चेयर पर्सन राष्ट्रीय महिला जागृति मंच फरीदाबाद)
2) श्रीमती शोभा तिवारी जी.
( प्रदेश सचिव ,भगवा रक्षा दल जबलपुर)

3) श्रीमती सपना मिश्रा जी.
( प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय महिला जागृति मंच)
4) श्रीमान कमल विश्वकर्मा जी
( प्रदेश अध्यक्ष पालक महासंघ)
5) श्रीमान विजय देवसेना जी.
( जिला अध्यक्ष पालक महासंघ जिला इकाई सतना)
6) श्रीमान आदित्य मिश्रा जी
( प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी पालक महा संघ जिला इकाई सतना

सभी वक्ताओं का एक ही कथन था की सरकार का यह निर्णय पूरी तरह गलत है एवं सरकार को इस पर द्वारा विचार करने की जरूरत है अगर सरकार ने अपना विचार नहीं बदला तो बच्चों के हित में अभिभावक उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगा.

जिला अध्यक्ष विजय देवसेना जी ने कहा कि क्या अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए उस फॉर्म में हस्ताक्षर करेंगे जिसमें उनसे बच्चों की किसी भी प्रकार की जिम्मेदारी केवल अभिभावक पर होगी यह एक तरीक़े से बच्चों के लिए डेथ फॉर्म होगा.

कार्यक्रम के अंत में सभी अतिथियों का धन्यवाद एडवोकेट आदित्य मिश्रा जी द्वारा किया गया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here