अधुरी सड़क को लेकर ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन,रिपोर्ट सदानंद सहानी

0
48

मझगावा:-

गगहा क्षेत्र के गेरूआखोर तथा डिहुलपार के ग्रामीणों ने गांव से राष्ट्रीय राजमार्ग तक बन रही सड़क निर्माण ठप होने को लेकर आक्रोश जताते हुए प्रर्दशन किया और अधूरे काम को पूरा करने की मांग की। शुक्रवार को अधूरी सड़क पर प्रर्दशन कर रहे जयप्रकाश शाही, सूर्य नारायण शाही,रामकवल यादव,साधू यादव,देवेंद्र पांडेय, विजय पांडेय,सुनील शाही,शिशु शाही,राजू पांडेय,चंदन शाही, प्रफुल्ल शाही,सनी शाही,नेबू लाल सहित एक दर्जन से अधिक ग्रामीणों का कहना है कि राष्ट्रीय राजमार्ग से गांव तक जाने के लिए मुख्य मार्ग पर बारह वर्ष पहले क्षेत्र पंचायत कोटे से खड़ंजा लगा था।

पिछले वर्ष ग्रामीणों की मांग पर विभाग से 1300 मीटर पक्की सड़क निर्माण की स्वीकृति मिली।धन अवमुक्त होने के बाद सड़क का निर्माण भी शुरू हो गया।गांव की तरफ से बननी शुरू हुई सड़क अभी 11 सौ मीटर तक बनी थी तभी बन रही सड़क से सटे अन्य गांव के काश्तकारों ने जलनिकासी के लिए पुलिया लगाने की मांग को लेकर सड़क निर्माण काम को रोक दिया। जिसके चलते क़रीब चार सौ मीटर सड़क अधूरी पड़ी है। ग्रामीणों का कहना है कि राज मार्ग से गांव तक अन्य पक्का मार्ग न होने से पिछले दो दशक से कीचड़ से सने रास्ते से जाने को मजबूर है।

ग्रामीणों के मुताबिक इसके पूर्व भी ठप पड़े निर्माण कार्य को शुरू कराने को लेकर जिलाधिकारी सहित शासन को हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपकर सड़क निर्माण की मांग की जा चुकी है।इसी तरह मंझगाँवा नर्रे मार्ग से एक सड़क डीहुलपार गेरुआखोर को जोड़ते हुए गई है उस पर भी मंझगावाँ नरे मार्ग से जुड़ने से पहले ही 200 मीटर अवरुद्ध हो गया जो 20 साल से आज तक नहीं बन पाई है ग्रामीणों का कहना है दोनों सड़कों के बनने का हम ग्रामीणों को क्या फायदा है की मेन सड़क से जोड़ने से पहले ही सड़क अवरुद्ध हो जाती है और विभाग उसी तरह छोड़ देता है हम लोगो जब कीचड़ में ही चलना है,

इस संबंध में जेई विरेन्द्र सिंह का कहना है कि ग्रामीणों ने सड़क का निर्माण राष्ट्रीय राजमार्ग से पहले शुरू करने को लेकर काम को रोका है। मामले को उच्चाधिकारियों से अवगत करा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here