*ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की पहली जल अदालत में केवल दो शिकायत आईं, एक का निस्तारण, अब इन सेक्टर के लिए अदालत लगेंगी -*

0
186

*ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की पहली जल अदालत में केवल दो शिकायत आईं, एक का निस्तारण, अब इन सेक्टर के लिए अदालत लगेंगी -*

 

जल शुल्क की शिकायतों का समाधान करने के लिए ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण में पहली बार गुरुवार को जल अदालत लगाई गई हैं। औद्योगिक सेक्टर इकोटेक-1 और ईकोटेक-12 के लिए आयोजित जल अदालत में केवल दो शिकायत आई हैं। इसमें एक का मौके पर निस्तारण कर दिया गया। प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने जल अदालत का निरीक्षण भी किया है। अब जल अदालत हर सप्ताह के गुरुवार को लगेगी।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण कार्यालय के भूतल में आयोजित जल अदालत में औद्योगिक सेक्टर ईकोटेक-1 और ईकोटेक-12 के आवंटियों की पानी शुल्क से संबंधित समस्याओं का समाधान किया। जल अदालत में इकोटेक-12 के आवंटी ने पानी कनेक्शन देने का अनुरोध किया। मौके पर ही जल विभाग ने पानी का कनेक्शन स्वीकृत कर दिया है। इसके अलावा सेक्टर इकोटेक-1 के आवंटी ने अवगत कराया कि उसके भूखण्ड पर पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। आवंटी ने निर्माण कार्य कराया जा रहा है। प्राधिकरण के अनुसार भूखण्ड पर दिनांक 27 जून 2001 को कार्यपूर्ति प्रमाण पत्र दिया जा चुका है। इसलिए 16 अक्टूबर को भूखण्ड का निरीक्षण कर समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

*सीईओ ने किया जल अदालत का निरीक्षण*

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में आयोजित जल अदालत का सीईओ नरेन्द्र भूषण ने निरीक्षण किया। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को आवंटियों की जल से सम्बन्धित, जल के बिलों से सम्बन्धित समस्याओं को तत्काल निस्तारित करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि 15 अक्टूबर को सम्मलित किये गये औद्योगिक सेक्टर-ईकोटेक-12 व सेक्टर ईकोटेक-1 के आवंटियों को 22 अक्टूबर की जल अदालत में आने का मौका दिया जाए। पहली जल अदालत में अपेक्षाकृत कम लोग पहुंचे। इस मौके पर एसीईओ दीप चन्द्र, जीएम परियोजना समाकान्त श्रीवास्तव, श्रीपाल भाटी आदि उपस्थित रहे।

*हर सप्ताह लगेंगी जल अदालत*

प्रत्येक सप्ताह एक सेक्टर की जल अदालत लगाकर उस सेक्टर के पानी के बिल से सम्बन्धित समस्त समस्याओं का निस्तारण किया जाएगा। लोक अदालत सुबह 10 बजे से 12 बजे तक लगेगी। जल अदालत के प्रथम चरण में प्राधिकरण ने औद्योगिक, संस्थागत सेक्टरों को सम्मिलित किया है। शेष सेक्टरों को द्वितीय चरण एवं तृतीय चरण में सम्मिलित किया जाएगा। इसके अतिरिक्त जल की समस्या के लिए प्राधिकरण कार्यालय में स्थापित हेल्पलाइन सेन्टर में *दूरभाष संख्या* 0120-2336046 ,47, 48 एवं 49 और व्हाट‘सअप नंबर 8800203912 पर शिकायत कर सकते हैं।

यह है जल अदालतों का शेड्यूल

दिनांक सेक्टर का नाम
22 अक्टूबर ईकोटेक-1 एक्सटेन्शन एवं ईकोटेक-1 एक्सटेन्शन-1
29 अक्टूबर ईकोटेक-6, 7 व 8
5 नंबवर ईकोटेक-3 एवं टाय सिटी
12 नंबवर संस्थागत ग्रीन (बीजेडपी) एवं सेक्टर-16 (औद्योगिक रंग ला रहा है नोएडा के डीएम का अभियान, कॉफी विद कलेक्टर में शामिल हुए 10 प्लाज्मा डोनर -*

 

गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई का “कॉफी विद कलेक्टर” अभियान रंग ला रहा है। डीएम ने कोरोना वायरस संक्रमण से जंग जीत चुके लोगों को प्लाज्मा डोनेट करने के लिए इस अभियान की शुरुआत की थी। “कॉफी विद कलेक्टर” नाम की इस पहल का अच्छा परिणाम आ रहा है। इस कार्यक्रम से प्रभावित होकर कोरोना योद्धा प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आ रहे हैं। जिलाधिकारी ने गुरुवार इस कार्यक्रम के दूसरे चरण में ग्रेटर नोएडा कलेक्ट्रेट के सभागार में 10 प्लाज्मा डोनर्स के साथ कॉफी पी है।

कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन करने के उद्देश्य से और स्वेच्छा से प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आकर अन्य संक्रमित व्यक्तियों की जान बचाने के लिए जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने “कॉफी विद कलेक्टर” कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। जिलाधिकारी की इस पहल से प्रभावित होकर कोरोना की जंग जीतने वाले लोग प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आ रहे हैं। जिलाधिकारी के साथ कॉफी का सेवन कर रहे हैं। इस कार्यक्रम के तहत गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी के साथ 10 कोरोना योद्धाओं ने कॉफी पी है। जिसमें मोनू कुमार, इरफान खान, अदनान अली, जावेद सैफी, सुमित, धुर्वनिल, अजय शर्मा, गौरव गुप्ता, कैलाश चंद्र और ललित गोयल सम्मिलित रहे।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सभी कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन किया। कहा, आपने जो प्लाज्मा डोनेट किया है, इससे दो कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को प्लाज्मा देकर उनके जीवन को बचाया जा सकेगा। जिसमें सभी प्लाज्मा डोनर की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। उन्होंने कहा कि जनपद में अन्य कोरोना योद्धा ठीक हो रहे हैं, उन्हें भी आपसे प्लाज्मा डोनेट करने का संदेश प्राप्त होगा। वह भी प्लाज्मा डोनेट करने के लिए स्वेच्छा से आगे आएंगे। अन्य कोरोना संक्रमित व्यक्तियों का जीवन बचाने में अपना योगदान देंगे। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे, डॉक्टर अजय और अन्य स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने कहा, “हम लोग कॉफी विद कलेक्टर के जरिए लोगों को सम्मान देना चाहते हैं। जो लोग आगे बढ़कर दूसरे लोगों की जान बचाने की हिम्मत रखते हैं, वह समाज के लिए सबसे बड़े योद्धा हैं। हम ऐसे लोगों को आगे आकर प्लाज्मा दान करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। इस अभियान के अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं। गुरुवार को “कॉफी विद कलेक्टर” के दूसरे चरण के दौरान 10 लोगों ने प्लाज्मा डोनेट किया है। मैंने उन्हें धन्यवाद ज्ञापित किया है। उनके सम्मान में सब लोगों ने मिलकर कॉफी पी है। जो लोग प्लाज्मा डोनेट करना चाहते हैं, वह मुझे या मुख्य चिकित्सा अधिकारी को फोन करके जानकारी दे सकते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here